Advertisement
Advertisement

5 सितंबर शिक्षक दिवस पर निबंध 2021

Advertisement

यहां आपको Teachers Day Essay in Hindi for class 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12 के छात्रों के लिए हिंदी में लिखा हुआ मिलेगा।

हर विद्यार्थी के जीवन में शिक्षक का एक विशेष स्थान होता है, राष्ट्र के भविष्य को सवारने में शिक्षकों की महत्व भूमिका होती है, उनकी सहायता से एक आदर्श नागरिक का जन्म होता है। जीवन में शिक्षक का महत्व को समझने के लिए विभिन्न शब्दों एवं आसान और सरल शब्दों में हम यहां शिक्षक दिवस पर निबंध उपलब्ध कराने जा रहे है, जो आपके बच्चों और विद्यार्थियों के लिए विविध प्रतियोगिताओ में उपयोगी साबित हो सकते हैं।

Teachers Day शिक्षक दिवस सभी शिक्षको को समर्पित करने के लिए एक पर्व के रूप में मनाया जाता है, जो हर साल 5 सितम्बर को शिक्षको को सम्मान देने के उद्देश्य से मनाया जाता है। यदि आप चाहे तो आने वाले शिक्षक दिवस के दिन इस शिक्षक दिवस पर हिन्दी निबंध को एक कागज पर सुन्दर-सुन्दर अक्षरों में लिख कर अपने शिक्षक को दे सकते हैं।

Advertisement

तो चलिए, शिक्षक दिवस पर वृत्तांत लेखन को लिखने से पहले अगर आप एक छोटी सी कविता लिखेंगे तो यकीनन ही आपके शिक्षक को अच्छा लगेगा और वो आपके इस कार्य के वजह से प्रसन्न भी होंगे।

इसे जरूर पढ़ें⇓
स्वच्छता पर निबंध

Teachers Day Poem in Hindi 2021 for Nursery Rhymes

Teachers Day Poem in Hindi By Student

वो कौन सा है पद,
जिसे देता ये जहाँ सम्मान।
वो कौन सा है पद,
जो करता है देशों का निर्माण।
वो कौन सा है पद,
जो बनाता है इंसान को इंसान।
वो कौन सा है पद,
जिसे करते है सभी प्रणाम।
वो कौन सा है पद,
जिकसी छाया में मिलता ज्ञान।
वो कौन सा है पद,
जो कराये सही दिशा की पहचान।
गुरू है इस पद का नाम।
मेरा सभी गुरूजनो को शत-शत प्रणाम।

Teachers Day Essay in Hindi

Teachers-Day-Images

शिक्षक दिवस का महत्व: हमारी सफलता के पीछे हमारे शिक्षक का बहुत बड़ा हाथ होता है। हमारे माता-पिता की तरह ही हमारे शिक्षक के पास भी ढेर सारी व्यक्तिगत समस्याएं होती है लेकिन फिर भी वह इन सभी को भूलकर रोज स्कूल और कॉलेज आते है तथा अपनी जिम्मेदारी को अच्छी तरह से निभाते हैं।

कोई भी उनके बेशकीमती कार्य के लिये उन्हें धन्यवाद नहीं देता है। इसलिये एक विद्यार्थी के रूप में शिक्षकों के प्रति हमारी भी जिम्मेदारी बनती है कि कम से कम साल में एक बार उन्हें जरुर धन्यवाद दें।

शिक्षको के कार्य को समर्पित करते हुए 5 सितम्बर का दिन पुरे देश में शिक्षक दिवस के रूप मनाया जाता है। शिक्षकों को सम्मान देने और भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस को याद करने के लिये हर साल इसे मनाया जाता है। देश के विकास और समाज में हमारे शिक्षकों के योगदान के साथ ही शिक्षक के पेशे की महानता को उल्लेखित करने के लिये हमारे पूर्व राष्ट्रपति के जन्मदिवस को समर्पित किया गया है।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक महान शिक्षक थे, जिन्होंने अपने जीवन के 40 वर्ष अध्यापन पेशे को दिए है। वे विद्यार्थियों के जीवन में शिक्षकों के योगदान और भूमिका के लिये प्रसिद्ध थे। इसलिये वे पहले व्यक्ति थे जिन्होंने शिक्षकों के बारे में सोचा और हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रुप में मनाने का अनुरोध किया।

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1888 को हुआ था और 1909 में चेन्नई के प्रेसिडेंसी कॉलेज में अध्यापन पेशे में प्रवेश करने के साथ ही दर्शनशास्त्र शिक्षक के रूप में अपने करियर की शुरुआत की। उन्होंने देश में बनारस, चेन्नई, कोलकाता, मैसूर जैसे कई प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों तथा विदेशों में लंदन के ऑक्सफोर्ड जैसे विश्वविद्यालयों में दर्शनशास्त्र पढ़ाया है।

अध्यापन पेशे के प्रति अपने समर्पण की वजह से उन्हें अपने बहुमूल्य सेवा की पहचान के लिये 1949 में विश्वविद्यालय छात्रवृत्ति कमीशन के अध्यक्ष के रुप में नियुक्त किया गया। 1962 से शिक्षक दिवस के रूप में 5 सितंबर को मनाने की शुरुआत हुई। अपने महान कार्यों से देश की लंबे समय तक सेवा करने के बाद 17 अप्रैल 1975 को उनका निधन हो गया।

शिक्षक दिवस विभिन्न देशों में अलग-अलग तिथियों को एक विशेष कार्यक्रम के रूप में मनाया जाता है। चीन में शिक्षक दिवस साल 10 सितम्बर को मनाया जाता है। सभी देशों में इस कार्यक्रम को मनाने का उद्देश्य आमतौर पर शिक्षकों को सम्मान देना और शिक्षा के क्षेत्र में प्राप्त उपलब्धियों की प्रशंसा करना है।

शिक्षक विद्यार्थियो के जीवन के वास्तविकतः कुम्हार की तरह होते है, जो न सिर्फ हमारे जीवन को आकार देते है बल्कि हमें इस काबिल बनाते है कि हम पूरी दुनिया में अंधकार होने के बाद भी प्रकाश की तरह जलते रहें। इसी वजह से हमारा राष्ट्र ढ़ेर सारे प्रकाश के साथ प्रबुद्ध हो सकता है। हमारे शिक्षक हमें शैक्षणिक दृष्टी से तो बेहतर बनाते ही है, साथ ही हमारे ज्ञान और विश्वास के स्तर को बढ़ाकर नैतिक रूप से भी हमें अच्छा बनाते है। जीवन में अच्छा करने के लिये वह हमें हर असंभव कार्य को संभव करने की प्रेरणा देते हैं। विद्यार्थी इस शिक्षक दिवस को बहुत उत्साह और खुशी के साथ मनाते है। विद्यार्थी अपने शिक्षकों को ग्रीटिंग कार्ड देकर बधाई भी देते हैं।

अंत में मै एक और कविता अपने शिक्षको के लिए लिखना चाहता हूँ-

Poem on Teacher in Hindi

शिक्षक दिवस का महत्व निबंध और कविता

शिक्षक दिवस पर कविता हिंदी में

हम स्कूल रोज हैं जाते,
शिक्षक हमको पाठ पढ़ाते..

दिल बच्चों का कोरा कागज,
उस पर ज्ञान अमिट लिखवाते..

जाति-धर्म पर लड़े न कोई,
करना सबसे प्रेम सिखाते..

हमें सफलता कैसे पानी,
कैसे चढ़ना शिखर बताते..

सच तो ये है स्कूलों में,
अच्छा इक इंसान बनाते..

॥धन्यवाद॥

इस कार्यक्रम के आयोजन के दौरान स्कूलों और कॉलेजों में विद्यार्थियों के द्वारा बहुत सी तैयारियां की जाती है, बहुत से विद्यार्थी इस कार्यक्रम को यादगार बनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों, भाषणों और अन्य गतिविधियों में भाग लेकर मनाते हैं। यदि आप भी शिक्षक दिवस पर अपने स्कूल या कॉलेज में भाषण देना चाहते है तो आप नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करके भाषण को पढ़ सकते है और उनको याद कर सुना भी सकते हैं, यकीनन ही आपके शिक्षको को यह पसंद जरूर आएगा।

भाषण: शिक्षक दिवस पर भाषण हिंदी में

कुछ विद्यार्थी इसे अपने ही तरीके से मनाते है। वे अपने प्रिय अध्यापक को कोई फूल, कार्ट, गिफ्ट, ई-ग्रीटिंग कार्ड, एस.एम.एस., मैसेज आदि के द्वारा उनका आदर करके और प्रशंसा करने के माध्यम से मनाते हैं। आप भी कुछ ज़रूर कीजिये आपने प्रिय शिक्षक को स्पेशल महसूस ज़रूर कराए। हमें पूरे दिल से ये प्रतिज्ञा करनी चाहिये कि हम अपने शिक्षक का सम्मान करेंगे क्योंकि बिना शिक्षक के इस दुनिया में हम सभी अधूरे हैं।

Happy Teachers Day Quotes 2021 in Hindi

शिक्षक दिवस के विषय पर निबंध और कविताओं का अध्ययन करने के साथ-साथ अब हम टीचर्स डे जैसे महान दिवस के मौके पर कुछ सुविचार आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं। इन सुविचारों को आप टीचर्स डे के दिन किसी स्टेज से या अपनी क्लास रूम में अपने क्लास टीचर के समक्ष सुनाकर उन्हें सम्मानित कर सकते हैं।

जो बनाए हमें नेक इंसान, कराएं सही गलत की पहचान
देश के उन भाग्य निर्माताओं को करें हम सत सत प्रणाम।


शिक्षक दिवस पर शायरी 2021


आपने बनाया मुझे इस काबिल कि मैं कठिन से कठिन कार्य कर सकूं
तब तब मुझे आपने सहारा दिया जब जब मुझे लगा मेरी दूर है मंजिल
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

देते हैं शिक्षा, शिक्षक हमारे! नमन चरणो में गुरु तुम्हारे
बिना शिक्षा सूना जीवन है शिक्षित जीवनसदा नवजीवन है!
हैप्पी टीचर्स डे..

खींचता था आड़ी टेड़ी लकीरे आपने मुझे
कलम चलाना सिखाया ज्ञान का दीप जला मन में
मेरे अज्ञान के अन्धकार को मिटाया!
हैप्पी टीचर्स डे..

अक्षर-अक्षर हमें सिखाते शब्द-शब्द का अर्थ बताते,
कभी प्यार से कभी डांट से,
जीवन जीना हमें सिखाते!
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।।

धरती कहती, अंबर कहते, बस यही तराना
गुरू आप ही वो पावन नूर है
जिनसे रौशन हुआ जमाना है
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।।

Teachers Day 2021 Speech in Hindi for School Students

Guru Slogan

प्रत्येक वर्ष 2021 की तरह ही 5 सितंबर को टीचर्स डे मनाया जाएगा। जिसमें अब कुछ ही दिन शेष है, परंतु हर वर्ष की तरह इस बार नजारा कुछ अलग होने के आसार है। क्योंकि कोरोना महामारी का कहर अभी भी थमा नहीं है। भारत में अभी भी सरकार द्वारा स्कूलों के खोलने के निर्देश नहीं दिए गए हैं। तो ऐसे में टीचर्स डे का स्कूल में सेलिब्रेशन हर बार की तरह नहीं देखने को मिलेगा। परंतु हां, छात्र हर साल की तरह छात्र अपने टीचर्स के सम्मान के लिए उन्हें विभिन्न माध्यमों जैसे सोशल मीडिया (इंटरनेट) पर अपने गुरू को इस टीचर्स डे की बधाई देकर उन्हें यह दिन संबोधित करेंगे।

इस लेख में आपको हमने जो Teachers Day 2021 Speech, Teachers Day 2021 Quotes, Teachers Day 2021 Essay उपलब्ध कराए है, इनमें से किसी भी सामग्री को आप कॉपी पेस्ट करके आप अपने टीचर्स को भेजकर उन्हें इस दिन की शुभकामनाएं दे सकते हैं।

What is the Importance of World Teachers Day in Hindi

भारत ही नहीं अपितु पूरा विश्व टीचर्स डे मनाता है और इसे हम वर्ल्ड टीचर्स डे (विश्व शिक्षक दिवस) के नाम से जानते है।

5 सितंबर 2021 का वह दिन होता है जिसे पूरे विश्व में गुरुओं को समर्पित किया जाता है। विश्व शिक्षक दिवस को मनाने का उद्देश्य विश्व भर में शिक्षकों की स्थिति का ध्यान रखना है। विश्व में कहीं भी हो एक छात्र के जीवन में शिक्षक की भूमिका सामान ही रहती है। अतः वर्ल्ड टीचर्स डे टीचिंग के इस प्रोफेशन को सम्मानित करने एवं इसे बेहतर बनाने की ओर कार्य करता है।

विश्व के कई ऐसे देश है जहां पर आज भी शिक्षकों को हिंसा के खतरा का सामना करना पड़ता है और इस नकारात्मक रवैया को भुलाकर शिक्षक इस महान पेशे के प्रति गर्व महसूस कर सके इसलिए यह दिन उनकी भूमिका के आभार को व्यक्त करता है।

हर साल वर्ल्ड टीचर्स डे को मनाने के साथ ही इसकी थीम में भी परिवर्तन होता है। बता दे वर्ष 2019 में भी वर्ल्ड टीचर्स डे बड़ी धूम-धाम से मनाया गया था। वर्ष 2019 में वर्ल्ड टीचर्स डे की थीम Young Teachers: The Future of the Profession सेट की गई थी। वर्ष 2020 में विश्व शिक्षक दिवस की थीम Teachers: Leading in crisis, Reimagining the future” सेट की गई है। लेकिन जिस तरह भारत कई दशकों से शिक्षक दिवस को लगातार वर्ष 1962 से मनाता है वही वर्ल्ड टीचर्स डे को अधिक वर्ष नहीं हुए हैं।

वर्ष 1994 में पहली बार वर्ल्ड टीचर्स डे के रूप में सेलिब्रेट किया गया था।

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है?

जब भी बात होती है टीचर्स डे की तो डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का नाम हमारे दिमाग में आता है या हमें सुनने को मिलता है। लेकिन आपके लिए जानना दिलचस्प होगा कि डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षा को लेकर अत्यंत गंभीर थे, शिक्षा हमारे जीवन में बेहद आवश्यक है एक शिक्षक के तौर पर पढ़ाने का उनका जुनून वाकई देखने योग्य होता था। अतः अपने जीवन काल के दौरान वे अधिक से अधिक छात्रों को शिक्षित कर सकें उनका यही सपना था।

1 दिन कुछ छात्र और प्रशंसक आए और उनका जन्मदिन जो कि 5 सितंबर को होता है उस दिन को सेलिब्रेट करने के बारे में कहने लगे जिसे सुनकर राधाकृष्णन ने कहा मुझे गर्व होगा यदि आप मेरे जन्मदिन को एक शिक्षक दिवस के तौर पर मनाए। अतः तभी से भारत में वर्ष 1962 से 5 सितंबर का दिन शिक्षक दिवस के रूप में भारत के सभी विद्यालयों कॉलेजेस एवं शिक्षण संस्थानों में मनाया जाता है।


भारत में शिक्षक दिवस मनाने की शुरूआत कब से हुई * 2 points?
  1. शिक्षक दिवस को 15 अक्तूबर 1963 में आधिकारिक रूप से घोषित किया गया था।
  2. भारत में शिक्षक दिवस भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के उपलक्ष में 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

आपको मेरे द्वारा लिखा यह लेख कैसे लगा?

यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो अपने जानकारों (छोटे या बड़े भाई बहन, दोस्त या फिर रिश्तेदारों) के साथ सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर जरूर करे और हाँ कमेंट के माध्यम से हमे बताना मत भूलिए की यह लेख आपको कैसा लगा?

– Teachers Day Essay in Hindi | शिक्षक दिवस पर निबंध

Recent Articles

Related Stories

4 Comments

  1. Techers Day की जानकारी और वह भी हिंदी में पढ़कर मजा आ गया आपका धन्यबाद

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here