Advertisement
सामान्य ज्ञान

प्रदूषण पर निबंध 10 वाक्य

10 Lines on Pollution in Hindi
Written by Himanshu Grewal

नमस्कार प्रिय पाठकों, 10Lines.co में आज हम प्रदूषण के बारे जानकारी प्राप्त करेंगे। यहां आपको प्रदूषण पर निबंध, 10 Lines on Pollution in Hindi, Pollution Essay in Hindi 10 Lines, Pradushan Par 10 Line इत्यादि की जानकारी मिलेगी। तो लेख को अंत तक पूरा पढ़ें।

10 Lines on Pollution in Hindi

प्रदूषण शब्द के बारे में तो सभी जानते है। प्रदूषण जो हमारे जीवन का अंग बन चुका हैं। वैश्विक स्तर पर आज ये सबसे बड़ी समस्या है और चुनौती भी। इससे कोई भी अछूता नहीं है चाहे वो विकसित देश हो जैसे यूरोपीय देश, अमेरिका या विकासशील देश जैसे एशियाई, अफ्रीकी देश।

प्रदूषण क्या है इसके प्रकार

प्रदूषण, पर्यावरण में दूषक पदार्थों के प्रवेश के कारण प्राकृतिक संतुलन में पैदा होने वाले दोष को कहते हैं। प्रदूषण का अर्थ हैहवा, पानी, मिट्टी आदि का अवांछित द्रव्यों से दूषित होना, जिसका सजीवों पर प्रत्यक्ष रूप से विपरीत प्रभाव पड़ता है तथा पारिस्थितिक तंत्र को नुकसान द्वारा अन्य अप्रत्यक्ष प्रभाव पड़ते हैं।

प्रदूषण के प्रकार

प्रदूषण के कई प्रकार है उनमें से कुछ इस प्रकार हैं जैसे की ध्वनि प्रदूषण, रेडियोधर्मी प्रदूषण, जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण, मृदा प्रदूषण आदि।

प्रदूषण की समस्या पर निबंध हिंदी में

प्रदूषण का अर्थ समझे तो यही है कि हमारे वातावरण में जल, वायु ,मिट्टी, ध्वनि आदि का अवांछिद द्रव्यों से दूषित होना किंतु इन द्रव्यों की उत्त्पति हुई कैसे? ये हमे समझना चाहिए। इन अवांछित द्रव्यों की उत्पत्ति का कारण मनुष्य स्वयं हैं। जैसे जैसे मानव विकास करता गया हमारे वातावरण में मौजूद तत्वों में असंतुलन भी बढ़ा। जिसके परिणाम जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण, मृदा प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण, रेडियोधर्मी प्रदूषण आदि हैं।


Pollution Essay in Hindi 10 Lines

  1. प्रदूषण से हर साल कोई न कोई नई जानलेवा बीमारी जरूर परिचय में आती हैं।
  2. प्रदूषण के कारण समुद्री तंत्र सबसे अधिक प्रभावित होता हैं। मछलियों के पेट से प्लास्टिक से बनी चीजें निकलती है और इसी के कारण उनकी मौत भी हो जाती हैं।
  3. प्रदूषण कई प्रकार से होता हैं। जल प्रदूषण ध्वनि प्रदूषण, वायु प्रदूषण , मृदा प्रदूषण , रेडियोधर्मी पदार्थ से प्रदूषण आदि।
  4. प्रदूषण के कारण लोगों को हृदय संबंधी, फेफड़े संबंधी, पेट संबंधी रोग हो रहे हैं।
  5. कारखानों से निकलने वाले रसायनों को नदी में छोड़ने के कारण नदिया भी दूषित हो चुकी है और उनका जल पीने योग्य नहीं रहा।
  6. मिट्टी में जैविक खाद के स्थान पर कीटनाशकों और उर्वरकों के प्रयोग से मिट्टी में उपज नहीं हो पाती जिससे अन्न संकट की स्तिथि का सामना भविष्य में करना पढ़ सकता हैं।
  7. प्रदूषण से ऐतिहासिक इमारतों की चमक कम हो गई है और अम्लीय वर्षा से नुकसान भी हो रहा है।
  8. सभी देशों की सरकार हर साल अरबों खरबों डॉलर बस प्रदूषण कम करने के लिए लगा देती है।
  9. वृक्षारोपण से काफी हद तक प्रदूषण से मुक्त हुआ जा सकता हैं। वृक्षों के कारण ही ऑक्सीजन की मात्रा वायुमंडल में बढ़ती है। ये पानी के अच्छे स्रोत भी होते हैं।
  10. प्रदूषण बढ़ने का सबसे बड़ा कारण वृक्षों अंधाधुन का कटान हैं। कई जंगल मनुष्य ने अपने निहित स्वार्थ और विकास के नाम पर तबाह कर दिए।

Some Lines About Pollution in Hindi

  • २ दिसंबर को प्रदूषण नियंत्रण दिवस के रूप में मनाया जाता हैं।
  • केवल भारत में प्रतिवर्ष ६२ मिलियन कूड़ा उत्पन्न होता हैं ।
  • महासागरो में ५.२५ ट्रिलियन प्लास्टिक का कचरा होने का अनुमान हैं।
  • दीपावली जैसे त्योहार में पटाखे जलने की वजह से वायु प्रदूषण बढ़ जाता हैं।
  • भारत में हर दिन १.५० लाख मीट्रिक टन से अधिक कचरा निकलता हैं।
  • प्रदूषण होने के कारण मृत्यु दर में बढ़ोतरी हुई हैं।

मानव स्वास्थ्य पर वायु प्रदूषण के क्या प्रभाव पड़ते हैं?

प्रदूषण का प्रभाव ये है कि आज अनगिनत रोगों की उत्पत्ति हो चुकी है। उससे पीड़ित केवल मानव ही नहीं है सभी जीव जंतु और पेड़ पौधे हैं। लगातार वन उन्मूलन, औद्योगीकरण, कीटनाशकों के प्रयोग से तथा ग्रीन हाउस गैसों के कारण आज स्थिति दयनीय है और ये केवल मनुष्य की विकास की लालसा और स्वार्थ का ही परिणाम है। जिसका परिणाम आज प्रकृति सभी निर्दोष जीव जंतु और मनुष्य स्वयं भुगत रहा हैं।

प्रदूषण को रोकने के लिए केवल सरकार ही नहीं नागरिकों का भी यह कर्तव्य होना चाहिए की वे अपने आस पास साफ सफाई रखें। संसाधनों का उतना ही दोहन करें जितना अनिवार्य है, आवश्यकता से अधिक हमें अपनी प्रकृति से कुछ नहीं लेना चाहिए। चाहे वो जंगलों से पेड़ पौधे हो, लकड़ियां हो या फिर नदी से जल। हमें अपने आगे आ रही पीढ़ी को भी यही संस्कार देने चाहिए। तभी ये कुछ हद तक संभव हैं।

हम विभिन्न वस्तुओं के उत्पादन के लिए पेड़ों पर निर्भर है। पेड़, लकड़ी, रबड़ आदि जैसा कच्चा माल प्रदान करते है जो कि फर्नीचर, बर्तन, कागज, सजावटी वस्तुओं को बनने में काम आते हैं। सब उपयोगिता के कारण हमने वृक्षों का कटान किया और आज वृक्ष बचाने के लिए अभियान की आवश्यकता पढ़ गई हैं। वृक्षारोपण अभियान, चिपको आंदोलन हुए भी तो हम सचेत नहीं हो पाए। किंतु हमें सजकता के साथ इस विषय पर विचार अवश्य करना होगा।

grammarly

वृक्षों के विषय में हमारे ग्रंथ गीता में भगवान कृष्ण ने एक श्लोक भी कहा कि

*पश्येंतान महाभागान परबैकांत जीवितान।
वातवर्षा तपाहिमान सहंतरे वार्यांति न:।।

वृक्ष इतने महान होते है कि परोपकार के लिए ही जीते हैं। ये आंधी, वर्षा और शीत को स्वयं सहन करते हैं। वृक्षों में प्राण होते है ये सिद्ध हो चुका है। तो इनके जीवन को हमें किसी मानव जीवन से कम नहीं समझना चाहिए। उनकी रक्षा करनी चाहिए।

निष्कर्ष

हम सभी जानते है कि बिना पेड़ पौधों के हमारा जीवन संभव नहीं है तो हमें वृक्षों के प्रति संवेदनशील होना चाहिए। बिना वृक्षों के हम प्रदूषण जैसी चुनौती से नहीं लड़ पाएंगे और अपने वातावरण के प्रति सचेत रहकर कार्य करने होंगे ताकि भविष्य में हमें नई बीमारियों का सामना न करना पड़े।

प्रदूषण पर प्रश्न | Pollution GK Questions in Hindi with Answer

प्रश्न: समस्त स्मार्ट सिटी में भारत का कौन सा शहर सबसे साफ सुथरा शहर हैं?

उत्तर: इंदौर

प्रश्न: विश्व का सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर कौन सा है?

उत्तर: यूएस एयर क्वालिटी इंडेक्स द्वारा जारी वायु प्रदूषण के आंकड़ों के अनुसार, इस लिस्ट में पहले स्थान पर भारत का दिल्ली (Delhi Air Pollution) राज्य है।

प्रश्न: विश्व का सबसे कम प्रदूषित देश कौन सा है?

उत्तर: सबसे कम प्रदूषित देश प्यूर्टो रिको है, उसके बाद क्रमशः न्यू कैलेडोनिया और अमेरिकी वर्जिन आइलैंड हैं।

प्रश्न: भारत का सबसे कम प्रदूषित शहर कौन सा है?

उत्तर: आइजोल, मिजोरम- भारत के नॉर्थ ईस्ट में स्थित आइजोल मिजोरम राज्य की राजधानी है। इस वक्त आइजोल शहर की हवा सबसे कम प्रदूषित शहरों में गिनी जा रही है।

प्रश्न: भारत में सबसे अधिक वृक्ष किस राज्य में पाए जाते हैं?

उत्तर: मध्य प्रदेश भारत का एक मात्र ऐसा राज्य है जहाँ सब राज्यों से ज्यादा जंगल मिलते है, इसलिए जब जंगल अधिक है, तो ऐसे में जाहिर है की वृक्ष भी सर्वाधिक यहीं होंगे।

प्रश्न: चिपको आंदोलन किससे संबंधित है?

उत्तर: यह आंदोलन वृक्षारोपण से संबंधित है।

प्रश्न: विश्व की सबसे स्वच्छ नदी कौन सी है?

उत्तर: टेम्स नदी जो की लंदन यानी ब्रिटेन की राजधानी में यह बहती है इसे दुनिया की सबसे स्वच्छ नदी माना जाता हैं।

प्रश्न: विश्व का सबसे घना जंगल कौन सा है?

उत्तर: दुनिया का सबसे बड़ा जंगल अमेजन है। ये एक वर्षा वन है इसकी विशालता का आंकलन इसकी सीमाओं से किया जा सकता है। ९ देशों की सीमाओं को छूने वाला यह एक मात्र जंगल हैं।

प्रश्न: कौन सी मछली इंसानों की मित्र मानी जाती है

उत्तर: डॉल्फिन। कई सारे देशों में डॉल्फिन को मॉल आदि के तालाब में रखा जाता है और इनकी किसी भी बात को
ग्रहण करने से क्षमता अधिक होती हैं।

प्रश्न: हमारे देश की राष्ट्रीय एजेंसियों के नाम बताइए जो पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्यरत हैं

उत्तर: भारत की मुख्य एजेंसियां के नाम इस प्रकार है।

  • पर्यावरण एवं वन मंत्रालय
  • वन्य जीव जंतुओं के लिए भारत बोर्ड
  • केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड
प्रश्न: Who क्या है?

उत्तर: WHO यानी विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना 7 April 1948 को हुई तथा इसका संगठन करने के पीछे का लक्ष्य वैश्विक स्तर पर स्वास्थ्य प्रणाली को बेहतर बनाना हैं।

आपने क्या सीखा?

पर्यावरण का साफ रहना हमारे और हमारे आस पास रह रहे सभी जीवों के जीवन के लिए आवश्यक है। तो हमें पूरी जिम्मेदारी के साथ बड़े और छोटे सभी को सजक करना होगा हमारे पर्यावरण के प्रति ताकि भविष्य के लिए हम कुछ भेंट सुरक्षित कर सके।

अंतिम शब्द

आशा है प्रदूषण से संबंधित जानकारी (10 Lines on Pollution in Hindi) आपको मिल गई होगी। इसी तरह के और लेख पढ़ने के लिए 10Lines.co पर दोबारा आए।

About the author

Himanshu Grewal

10Lines.co एक हिंदी ब्लॉग है, यहां आपको 10 Lines से संबंधित जानकारी मिलेगी। इसके अलावा निबंध (Essay), भाषण (Speech), कविता (Poem) भी पढ़ने को मिलेगा।

Leave a Comment